Home Tech News Bike Insurance कैसे करायें, जानिये थर्ड पार्टी टू-व्हीलर इंश्योरेंस के नियम

Bike Insurance कैसे करायें, जानिये थर्ड पार्टी टू-व्हीलर इंश्योरेंस के नियम

138
0
Bike Insurance कैसे करायें, जानिये थर्ड पार्टी टू-व्हीलर इंश्योरेंस के नियम
Bike Insurance कैसे करायें, जानिये थर्ड पार्टी टू-व्हीलर इंश्योरेंस के नियम

सड़क पर दुपहिया वाहन चलाने वाले नागरिकों के लिए Bike Insurance कैसे करायें और क्यों जरूरी है! यदि आप कई वर्षों से बाइक चला रहे हैं! तो आप यह भली-भांति जानते होंगे।

लेकिन कई सारे नए यूजर्स जिन्होंने अभी-अभी बाइक चलाने की शुरुआती की है! उनके लिए यह Bike Insurance कैसे करायें, और क्यों जरूरी है, और बाइक इंश्योरेंस पॉलिसी कैसे लेते हैं! यह समझना बेहद अहम हो जाता है।

इस आर्टिकल के माध्यम से हम अपने सभी पाठकों को बाइक इंश्योरेंस के बारे में बेहद सरल शब्दों में जानकारी देने जा रहे हैं! ताकि Bike Insurance से जुड़े सभी सवालों के जवाब आपको इस आर्टिकल में मिल सके।

दोस्तो बाइक इंश्योरेंस करवाना सिर्फ कठिन परिस्थितियों में आपके वाहन की सुरक्षा करता है! बल्कि आपको भी एक प्रोटक्शन cover के तौर पर सुरक्षा देता है! तो सबसे पहले हम जान लेते हैं!

यह भी पड़े:- CSC Center कैसे खोले, CSC Registration Online Kaise Kare

Bike Insurance Kya Hai ?

मोटर Vehicle एक्ट 1988 तथा 2019 Motor Vehicles (Amendment) के अंतर्गत भारत में सड़क पर दुपहिया वाहन चलाने वाले नागरिकों के पास उनकी बाइक का इंश्योरेंस होना जरूरी है।

और न सिर्फ कानूनी तौर पर बाइक इंश्योरेंस होना जरूरी है, बल्कि बाइक इंश्योरेंस प्लान आपको दुर्घटना की स्थिति जैसे एक्सीडेंट होने, या प्राकृतिक आपदा आंधी, तूफान होने पर आपकी bike को सुरक्षा प्रदान करता है! और आपकी बाइक को पहुंचे नुकसान की भरपाई करने का कार्य करता है।

लेकिन यदि आप इस कानून को नकारते हुए अपनी बाइक का इंश्योरेंस नहीं करवाते हैं! और सड़क पर उसे चलाते हैं! तो पकड़े जाने की स्थिति में आपके वाहन एवं आप पर कानूनी कार्रवाई की जा सकती है! जिससे आपको भारी नुकसान हो सकता है।

इसलिए हम अक्सर विज्ञापनों के माध्यम से भी यह सुनते रहते हैं! कि अपने बाइक का इंश्योरेंस करवाएं! आज बाजार में कई सारी कंपनियां है जो आपको बाइक इंश्योरेंस पॉलिसी की सुविधा देती है आप किसी भी अच्छी कंपनी से अपनी बाइक इंश्योरेंस करवा सकते हैं।

जब आप अपनी बाइक का इंश्योरेंस ले लेते हैं! तो उसके बाद यदि दुर्भाग्यवश कभी सड़क एक्सीडेंट हो जाता है और उसमें आपकी bike काफी डैमेज हो जाती है और आपको भी चोट आती है तो ऐसी स्थिति में भी बाइक इंश्योरेंस कंपनी आपको न सिर्फ बाइक को रिपेयर करवाने में मदद करेंगी बल्कि आपको इलाज खर्च भी Provide करवाती हैं।

अतः इस प्रकार देखा जाए तो Bike Insurance Policy एक व्यक्ति और एक इंश्योरेंस कंपनी के बीच एग्रीमेंट होता है! जहां पर इंश्योरेंस कंपनी बाइक दुर्घटना में हुए नुकसान के लिए सुरक्षा प्रदान करती है।

Bike Insurance किन किन प्रकार के नुकसान से बचाता है?

  1. सड़क दुर्घटना की स्थिति में।
  2. चोरी आग लगने की स्थिति में।
  3. प्राकृतिक आपदाओं जैसे बाढ़ भूकंप आंधी की स्थिति में बाइक को पहुंचने वाले नुकसान।
  4. इसके अलावा दंगे-फसाद, आतंकी गतिविधियों की स्थिति में बाइक इंश्योरेंस safety प्रदान करता है।

अतः लगभग सभी प्रकार के नुकसानों से एक बाइक इंश्योरेंस बाइक Owner एवं Bike को संरक्षण प्रदान करता है।

अब सवाल आता है कि अपनी बाइक के लिए इंश्योरेंस कैसे Choose करें? लेकिन उससे पहले यह जानना जरूरी हो जाता है कि अपनी जरूरत के मुताबिक यह इंश्योरेंस प्लान भी विभिन्न प्रकार के होते हैं! जिनमें दी जाने वाली सुविधाएं भी भिन्न होती हैं, इसलिए कैटेगरी के मुताबिक यहां पर चार प्रकार के बाइक इंश्योरेंस प्लान का वर्णन किया गया है।

यह भी पड़े:- Life insurance Kya Hai – जीवन बीमा योजना क्यों जरूरी है ?

Bike Insurance कितने प्रकार के होते हैं ?

Liability Only Insurance Policy: इसे हम Act only पॉलिसी के नाम से भी जानते हैं! जो कि इंडिया में सभी दुपहिया वाहन चलाने वाले राइडर्स के लिए कानूनी रूप से अनिवार्य है। यदि आप इस इंश्योरेंस को करवाते हैं, तो आपके वाहन से यदि किसी दूसरे वाहन या व्यक्ति को नुकसान पहुंचा है! तो उसकी भरपाई इंश्योरेंस पॉलिसी के जरिए होती है। हालांकि इस इंश्योरेंस पॉलिसी के अंतर्गत इंश्योरेंस कराने वाले व्यक्ति को कोई प्रोटेक्शन नहीं मिलता है।

  • Comprehensive Insurance

यह सर्वोत्तम स्तर का इंश्योरेंस है! जो आपकी बाइक को सड़क दुर्घटना या चोरी, आग लगने तथा प्राकृतिक आपदा से प्रभावित होने, आतंकी गतिविधियों की स्थिति में सुरक्षा प्रदान करता है।

यह प्लान थर्ड पार्टी से भी सुरक्षा प्लान देता है, बाइक चोरी होने या डैमेज होने की स्थिति में कंप्रिहेंसिव इंश्योरेंस पॉलिसी आपको एडिशनल कवरेज प्रदान करता है। हालांकि यह एक Optional पॉलिसी है जिसे हम पैकेज पॉलिसी के नाम से भी जानते हैं। क्योंकि इसमें कई सारी सुविधाएं इंश्योरेंस कराने वाले व्यक्ति को मिल जाती हैं, इसलिए इस पॉलिसी का सुझाव भी लोगों को दिया जाता है।

बाइक इंश्योरेंस करवाने के क्या-क्या फायदे हैं?

Select Coverage

आप अपनी आवश्यकता एवं मर्जी के मुताबिक किसी भी बाइक इंश्योरेंस प्लान को ले सकते हैं। लेकिन अधिकतर समय कंप्रिहेंसिव कवर पॉलिसी लेने का सुझाव दिया जाता है

Online process

आपको bike का इंश्योरेंस करवाने के लिए घंटों तक किसी office मैं इंतजार नहीं करना है! आप बड़ी आसानी से ऑनलाइन बाइक इंश्योरेंस ले सकते हैं, आप जिस भी कंपनी का इंश्योरेंस प्लान लेना चाहते हैं आप उसकी वेबसाइट या मोबाइल ऐप के माध्यम से डायरेक्ट इंश्योरेंस प्लान ले सकते हैं।

No claim Bonus

जी हां यदि आप बाइक का इंश्योरेंस करवाते तो नो क्लेम बोनस का फायदा भी ले सकते हैं! यदि साल भर में यदि आप दुर्घटना स्थिति ना होने की वजह से क्लेम नहीं लेते हैं! तो आप इंश्योरेंस पॉलिसी से No क्लेम बोनस ले सकते हैं। साथ ही यदि आप किसी दूसरी कंपनी की इंश्योरेंस पॉलिसी लेना चाहते हैं, तो जब आप दूसरी इंश्योरेंस पॉलिसी में ट्रांसफर होते हैं तो आप अपनी वर्तमान बीमा पॉलिसी के No clain bonus को भी वहां पर ट्रांसफर कर सकते हैं।

Additional Protection

जब आप बाइक इंश्योरेंस लेते हैं! तो कई सारी कंपनियां इंश्योरेंस पॉलिसी के तहत कुछ एडिशनल प्रोटेक्शन भी प्रदान करती हैं। जैसे कि एक्सीडेंट कवर, स्पेयर पार्ट्स या एक्सेसरीज़ के लिए कवर, या जीरो डेप्रिशियेशन कवर. हालांकि इन सभी कवर्स को लेने पर आपको थोड़ा अधिक भुगतान करना होगा।

Long term policy

जब आपकी बाइक इंश्योरेंस पॉलिसी की अवधि समाप्त होने वाली होती है, तो आपको इसकी सूचना मोबाइल पर ही मिल जाती है! आप एक बारी में 3 साल का लॉन्ग टर्म पॉलिसी ले सकते हैं, तो आपको प्रत्येक साल इसे Renew करवाने की आवश्यकता नहीं पड़ती।

दोस्तों इस प्रकार देखा जाए तो एक बाइक इंश्योरेंस पॉलिसी में न सिर्फ एक bikd को बल्कि व्यक्ति को भी विभिन्न सुविधाएं मिलती हैं। इसलिए सरकार द्वारा बीमा पॉलिसी को जरूरी करार दिया गया है, आइए जानते हैं!

बाइक इंश्योरेंस पॉलिसी कैसे खरीदें?

बाइक इंश्योरेंस पॉलिसी आप मुख्य तीन तरीकों से ले सकते हैं! या तो offline या online यदि आप offline इंश्योरेंस पॉलिसी लेना चाहते हैं! तो आप बाइक इंश्योरेंस कंपनी के दफ्तर में जा सकते हैं! या आप अपने नजदीकी किसी आस-पड़ोस के व्यक्ति से इसके बारे में अधिक जानकारी ले सकते हैं! जैसे कि उन्होंने कौन सी कंपनी की और कहां से इंश्योरेंस पॉलिसी है!

इसके अलावा वर्तमान समय में इंश्योरेंस पॉलिसी online लेना अधिक सुविधाजनक है! क्योंकि ऑनलाइन आप विभिन्न कंपनियों के इंश्योरेंस प्लान को compare कर सकते हैं तथा instantly Buy कर सकते हैं।

यहां हमने कुछ Best बाइक इंश्योरेंस कंपनियों की लिस्ट दी है, आप ऑनलाइन इन इंश्योरेंस पॉलिसी के बारे में जान सकते हैं।

  • Bajaj Allianz General Insurance Company
  • HDFC Ergo General Insurance Company
  • Bharti AXA Motor Insurance Company
  • National Insurance Company
  • IFFCO Tokio Insurance Company
  • L&T Motor Insurance Company
  • SBI Insurance Company
  • Royal Sundaram Alliance Insurance Company
  • Reliance General Insurance Company

Bike Insurance Damage Claim kaise le?

अब यह प्रश्न उठता है कि यदि Bike एक्सीडेंट हो जाता है! तो ऐसी स्थिति में उस इंश्योरेंस का डैमेज क्लेम कैसे लिया जाए? बता दें आप बीमा कंपनी से अपनी बाइक को पहुंचे नुकसान की भरपाई का Claim ले सकते हैं।

आपको इसके लिए कंपनी के किसी बीमा सेंटर पर जाना होगा! और वहां पर उन्हें अपने बाइक इंश्योरेंस प्लान दिखाना होगा और आपकी बीमा पॉलिसी को देखने के बाद ही वे आगे steps लेंगे।

सर्विस सेंटर पर आपको डैमेज के क्लेम के लिए एक फॉर्म दिया जाएगा। और फॉर्म को भरने के बाद आपको कंपनी द्वारा आवश्यक सहायता दी जाएगी।

कोई समस्या होने की स्थिति में आप बीमा कंपनी के कस्टमर care पर कॉल कर के भी अपनी समस्या बता सकते हैं।

तो दोस्तों आज के इस आर्टिकल में बस इतना ही मुझे आशा है Bike Insurance कैसे करायें? यह क्यों जरूरी है? कैसे लें? यह पूर्ण जानकारी आपको इस आर्टिकल में मिल चुकी होगी। कोई और सवाल हो तो आप बेझिझक बता सकते हैं!

Bike Insurance कैसे करायें, इस जानकारी को आप सोशल मीडिया पर भी जरूर शेयर करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here