Home Hosting Cloud Hosting Kya Hai – यह कैसे काम करती है ?

Cloud Hosting Kya Hai – यह कैसे काम करती है ?

92
0
Cloud Hosting Kya Hai - यह कैसे काम करती है ?

क्या आपकी कोई वेबसाइट है या फिर आप एक ब्लॉगर हैं, और जानना चाहते हैं कि Cloud Hosting क्या होती है और कैसे यह काम करती है! तो आज का हमारा यह लेख आपको यह जानने में पूरी सहायता करेगा!

दोस्तो जैसे ही पहली बार कोई व्यक्ति खुद की Website या Blog Start करता है! तो उसे शुरुआत में कई सारी Hosting के बारे में पता चलता है! जैसे Shared Hosting, VPS Hosting इत्यादि! ऐसे ही एक Hosting है Cloud Hosting और माना जाता है यह काफी अच्छी स्पीड देती है!

परंतु क्या वाकई इस Cloud Hosting से आप अच्छी स्पीड प्राप्त कर सकते हैं! यह Hosting बाकी अन्य Hosting से कैसे अलग है? और इसके क्या फायदे हैं यह भी हमारे लिए जानना जरूरी हो जाता है! क्योंकि cloud Hosting के लिए काफी पैसा खर्च करना होता है!

इसलिए Cloud Hosting से जुड़ी पूरी जानकारी पाने के लिए इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें! तो आइए शुरुआत करते हैं!

Cloud Hosting क्या होती है ?

Cloud Hosting होस्टिंग का नया प्रकार है जो पिछले कुछ सालों में तेजी से लोकप्रिय हुई है! आसान शब्दों में Cloud होस्टिंग को समझें तो आपकी वेबसाइट के लिए सभी जरूरी Resources जब किसी एक Physical server से नहीं बल्कि अलग-अलग Virtual server से लिए जाते हैं! तो उस होस्टिंग को Cloud के नाम से जानते हैं, अर्थात यहां पर आपकी वेबसाइट अलग-अलग वेब सर्वर्स के माध्यम से Maintain होती है!

दोस्तों सामान्य Hosting की तुलना में Cloud होस्टिंग काफी अलग होती है! इस Hosting में केवल एक ही Physical server होता है, जिससे सभी वर्चुअल सर्वर जुड़े रहते हैं! क्योंकि इन सभी Virtual सर्वर का कार्य इंटरनेट पर आपकी वेबसाइट को ऑनलाइन करना होता है! इसलिए इनमें से कोई Virtual Server फेल या क्रैश हो जाता है, तो ऐसी स्थिति में कोई दूसरा वर्चुअल सर्वर जो कि इंटरनेट से कनेक्टेड है! वहां पर आपकी वेबसाइट Transfer कर दी जाती है और इस तरीके से आपकी वेबसाइट कभी बंद नहीं रहती।

Cloud Hosting का सबसे बेहतरीन Example है, google.com| जी हां क्या आपको पता है कि गूगल के खुद के सैकड़ों Servers Cloud पर store हैं, इन सभी Servers में गूगल के रिसोर्सेज मौजूद हैं। जिनका इस्तेमाल गूगल आवश्यकता पड़ने पर करता है! और यही वजह है कि कभी आपने google.com साइट को बंद होते नहीं देखा होगा!

अतः कई सारे users इसलिए भी Cloud वेब होस्टिंग को पसंद करते हैं! क्योंकि इसमें Endless processing power & storage space की सुविधा मिल जाती है।

इसलिए जो मुख्य अंतर बाकी अन्य Hosting और Cloud होस्टिंग के बीच है कि Other Hosting में आपका डाटा सिंगल Server पर होस्ट रहता है लेकिन क्लाउड web होस्टिंग में डाटा कई सारे वर्चुअल सर्वर में store होता है!

Cloud Hosting काम कैसे करती है ?

तो दोस्तों जैसा कि अभी हमने जाना कि Cloud Hosting में कई सारे Virtual सर्वर होते हैं! और इन Server का इस्तेमाल अलग-अलग Tasks के लिए होता है! ऐसी स्थिति आती है, जहां पर कोई सर्वर फेल हो जाता है तो कोई दूसरा सरवर उस Server का स्थान ले लेता है! और वेबसाइट के लिए जरूरी रिसोर्सेज को वह Provide करता है।

लेकिन ध्यान रखें! दोस्तों कभी-कभी ऐसी स्थिति आ जाती है जब किसी server पर अधिक Load पड़ जाता है तो ऐसी स्थिति में कोई दूसरा Server उस Load को कम करने का भी काम करता है! इसलिए जब भी आप किसी Cloud होस्टिंग का इस्तेमाल करें तो सुनिश्चित करें कि वह किसी अच्छी कंपनी की ही Cloud होस्टिंग हो अन्यथा बाद में वेबसाइट और आपको दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है।

क्योंकि low क्वालिटी के server Hardware का उपयोग अधिकतर सस्ती Hosting में होता है! इसलिए वहां पर क्लाउड होस्टिंग भी कई बार फेल हो जाती है!

तो अब यदि आप Cloud होस्टिंग के बारे में अधिक जानने मैं इच्छुक है, तो आपके मन में यह सवाल जरूर आ सकता है कि आखिर कौन सी कंपनी इंडिया में क्लाउड होस्टिंग के लिए बेस्ट और मशहूर हैं!

Top 5 Cloud Hosting Company In India In Hindi

  1. Hostgator Cloud Hosting
  2. Bluehost Cloud
  3. Camera Hosting
  4. Milesweb
  5. Hosting Raja

तो दोस्तों इस तरह आप जान चुके हैं, इस समय की 5 Best Cloud होस्टिंग कंपनी के बारे में लेकिन जब भी आप इनमें से या किसी भी होस्टिंग कंपनी से Cloud होस्टिंग खरीदने के बारे में सोचें उससे पूर्व आप उस होस्टिंग कंपनी के बारे में एक बार फिर से इंटरनेट पर उसके Price, Customer Support, एवं Features को पढ़कर जरूर पूरी जानकारी ले ले ताकि आपको पैसा वसूल होस्टिंग मिल सके!

Cloud Hosting के फायदे ?

Pricing

Cloud होस्टिंग प्राइसिंग के मामले में सबसे बेस्ट गई जा सकती है। अधिकतर होस्टिंग Types को आप use करते हैं, तो आपको होस्टिंग कंपनी द्वारा उस Plan में जितने Resources दिए गए हैं उनका इस्तेमाल आप करें! या ना करें! आपसे उतना ही चार्ज लिया जाएगा। लेकिन Cloud होस्टिंग में आप जितने Servers के रिसोर्सेज का उपयोग करते हैं उसी का Charge आपको Pay करना होता है।।

Easy To Scale Server

यदि आपके पास क्लाउड होस्टिंग है! और आपको लग रहा है कि आपका ट्रैफिक इस समय काफी ज्यादा आ रहा है!तो आप खुद भी अपने रिसोर्सेज को Scale कर सकते हैं! कई सारे Cloud servers में आपके पास Site management Dashboard होता है!।

जिससे आप अपनी साइट के Servers जरूरत पड़ने पर बढ़ा सकते हैं! साथ ही परफॉर्मेंस को Real Time देख सकते हैं। अर्थात आपको Servers को बढ़ाने के लिए किसी होस्टिंग प्रोवाइडर को Contact करने की आवश्यकता नहीं।

Availability

यदि आप किसी अन्य होस्टिंग का इस्तेमाल करते हैं, तो वहां पर आपकी साइट फिजिकल सरवर के आधार पर Up या डाउन हो सकती है! अर्थात यदि वह फिजिकल सरवर Off हो जाता है! तो आपकी Site भी डाउन हो जाएगी! हालांकि CDN यूजर्स को साइट के Downtime कम होने में CDN का मदद करता है।

लेकिन वहीं यदि आप क्लाउड वेब होस्टिंग यूजर है, तो आपकी साइट वर्चुअल Resources का उपयोग करती है! और यदि कोई सरवर क्रैश हो जाता है तो ऐसी स्थिति में दूसरा सर्वर उस वेबसाइट पर ट्रांसफर किया जाता है! जहां से वह वेबसाइट लाइव रहती है इस तरह क्लाउड होस्टिंग में वेबसाइट के Down होने के काफी कम Chances होते हैं।

Fastest Speed

पुराने टाइप की Hosting अर्थात shared, VPS होस्टिंग इत्यादि की तुलना में Cloud को Fast माना जाता है! क्लाउड होस्टिंग की स्पीड 2 गुना अधिक तेज होती इसलिए कई सारी होस्टिंग कंपनियां हैं, जो आपकी वेबसाइट को क्लाउड होस्टिंग के अंतर्गत काफी फास्ट स्पीड देने का दावा करती हैं!

इसलिए Cloud स्पीड की कीमत अधिक होने के साथ-साथ यहां पर आपको Server हार्डवेयर भी बेहतरीन मिलता है।

Adjust Ability

यदि आपके Blog का ट्रैफिक कभी ज्यादा तो कभी कम होता है! तो क्लाउड वेब होस्टिंग आपके लिए काफी मददगार साबित हो सकती है। क्योंकि जैसा कि अभी हमने जाना कि क्लाउड वेब होस्टिंग में हमारे पास Servers को Scale करने की सुविधा होती है!

इसलिए अभी आपका कोई पोस्ट वायरल होने की वजह से काफी ज्यादा ट्रैफिक आ रहा है तो इस समय आप Servers को स्केल कर सकते हैं, और बाद में यदि ट्रैफिक फिर से डाउन हो जाता है तो आप Servers को कम कर सकते हैं!

इसका विशेष फायदा यह है कि आप जब अधिक रिसोर्सेज का उपयोग करेंगे तब आप से अधिक Cost ली जाएगी! और जब कम करते हैं तो आपकी Cost क्लाउड होस्टिंग में कम हो जाती है! इसलिए ऐसी Adjust Ability शायद ही आपको किसी और अन्य होस्टिंग में देखने को मिले।

अतः इस प्रकार यदि हम क्लाउड होस्टिंग का नुकसान देखें! तो बस यही है कि इसकी कीमत Hosting के अन्य टाइप्स की तुलना में अधिक होती है। लेकिन क्योंकि यहां पर आपको फीचर्स भी अधिक मिलते हैं, इसलिए प्राइस कई लोगों के लिए मैटर नहीं करता। इसलिए आज कई सारे Bloggers अपने ब्लॉग में क्लाउड होस्टिंग का इस्तेमाल कर रहे हैं।

Cloud Hosting का इस्तेमाल आपको कब करना चाहिए?

आज छोटे छोटे स्टार्टअप से लेकर बड़ी संस्थाएं तक क्लाउड होस्टिंग का इस्तेमाल कर रही हैं! क्लाउड वेब होस्टिंग की फ्लैक्सिबिलिटी के कारण नेटफ्लिक्स जैसी कंपनियां भी इसका सपोर्ट करती हैं!

अब बात आती है कि आपको कब इसका इस्तेमाल करना चाहिए तो दोस्तों क्लाउड होस्टिंग की जरूरत मुख्यतः तब पड़ती है! जब आपकी साइट को Fast Speed, 24* 7 Online की आवश्यकता हो!

अर्थात मान लेते हैं आप एक ब्लॉगर हैं और आपकी Site में ट्रैफिक Millions की संख्या में आता है! और आपको Hosting के टाइप्स, price, फीचर्स एवं उनके परफॉर्मेंस को देखने के बाद लगता है कि क्लाउड होस्टिंग के अलावा कोई अन्य वेब होस्टिंग फायदेमंद नहीं होगी!

तो जरूर आपको Cloud वेब होस्टिंग का इस्तेमाल करना चाहिए! हालांकि शुरू से ही इसका इस्तेमाल करने में कोई दिक्कत तो नहीं है, लेकिन इसमें अन्य Hosting की तुलना में खर्चा ज्यादा आता है इसलिए शुरुआत में लोग इसे कम ही इस्तेमाल करते हैं!

तो दोस्तों आज के इस लेख को यहीं समाप्त करते हैं, मुझे आशा है अब आपको Cloud होस्टिंग के बारे में काफी कुछ नया सीखने को मिला होगा!

कोई सवाल हो तो आप कमेंट बॉक्स में हमेशा की तरह पूछ सकते हैं, साथ ही यदि यह जानकारी हेल्पफुल लगी है, तो आप इसे सोशल मीडिया पर शेयर कर लोगों को Cloud वेब होस्टिंग के बारे में जानने में उनकी हेल्प कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here