Home Cyber Crime Cyber Crime Se Kaise Bache Top 5 Tips

Cyber Crime Se Kaise Bache Top 5 Tips

298
0
Cyber Crime Se Kaise Bache Top 5 Tips

इंटरनेट के उपयोग ने जहां एक ओर लोगों की जिंदगी को आसान बनाकर दुनिया को मुठ्ठी में कर दिया है। वहीं इसके दुरुपयोग ने सायबर क्राइम अपराध को जन्म दिया है cyber crime kya hai, cyber Crime Kya Hota Hai,

आज का है लेख आपके लिए बहुत महत्पूर्ण है इस लेख को अपने दोस्त और रिश्तेदर को जरूर शेयर करे Cyber Crime Se Bachne Ke Top 5 Tips ?

  1. Apps Ka Maya Jaal ?
  2. Fake Review Se Kaise Bache ?
  3. Online Games Se Kaise Bache ?
  4. SMS द्वारा धोवाधड़ी ?
  5. साइबर गिद्ध ?

1 Apps Ka Maya Jaal ?

SmartPhone का चलन बढ़ने के बाद आजकल मार्केट में अनगिनत Mobile Apps आने लगे हैं। अलग-अलग उपयोग के लिए अलग-अलग तरह के एप्स मार्केट में प्रचारित किए जाते हैं। कुछ स्वास्थ्य के लिए, कुछ व्यापार के लिए, कुछ मनोरंजन के लिए अथवा Social Networking के लिए, इन सभी एप्स का मूल उद्देश्य आपके जीवन को आसान बनाना होता है। लेकिन इसी भरोसे का फायदा उठाकर कुछ Fake Apps भी मार्केट में आने लगे हैं। जिनको Download करके आप अपनी सारी निजी और गोपनीय जानकारियां आसानी से उन्हें शेयर कर सकते हैं। उससे होने वाले नुकसान का पता आपको जब तक चलता है तब तक बहुत देर हो चुकी होती है

अतः किसी भी एप को डाउनलोड करने से पहले उसकी प्रमाणिकता की जांच अवश्य कर लें और जहां तक हो सके अधिकृत प्लेटफार्म से ही किसी भी एप को डाउनलोड करें।

2 Fake Review Se Kaise Bache ?

किसी विशेष Site, Hotel, Mobile, Laptop, Apps, सेवा आदि को Promote करने के लिए आजकल Review का बिजनेस तेजी पर है। ज्यादा अच्छे और फाइव स्टार रेकिंग वाले रिव्यूस को देखकर ज्यादा से ज्यादा लोग इनकी ओर आकर्षित होते हैं। लोगों की इसी मानसिकता का फायदा उठाकर आजकल Fake Review का धंधा तेजी से फल-फूल रहा है। इस प्रकार के फेक रिव्यूस आपको नकली उत्पाद, घटिया सेवाएं और Online Site की गलत जानकारी देकर धोरवा बड़ी आसानी से दे सकते हैं। इस धोरवे का शिकार होने पर आपको आर्थिक, सामाजिक और शारीरिक आघात पहुंच सकता है। इस तरह की घटनाओं से बचने के लिए किसी भी रिव्यू पर भरोसा करने की बजाए पहले उस साइट, प्रोडक्ट, उत्पाद, सर्विस को अच्छी तरह से जांच लें। ऑनलाइन के साथ-साथ उसकी ऑफ लाइन तसल्ली भी करना आवश्यक होता है। पूरी तरह से संतुष्ट हो जाने के बाद ही अपना निर्णय लें।

3 Online Games Se Kaise Bache ?

हाल ही में यह बताया गया था कि Online Games के नकली संस्करण (Temple run, Flow Free और Hill Climb Racing सहित) जो लोकप्रिय हैं और Play Store पर मुफ्त में भारी संख्या में Download upload किए गए थे डाउनलोड। निर्दोष लोग वास्तविक और के बीच अंतर करने में सक्षम नहीं हैं नकली संस्करण, नकली संस्करण डाउनलोड किया और पूरा देने में समाप्त हो गया व्यक्तिगत डेटा जो उनके उपकरणों और एक हैकर पर रहता है, को भी संक्रमित कर सकता है उपकरणों के साथ malwares और जिससे वित्तीय नुकसान होता है और यह भी प्रतिबद्ध है चोरी की पहचान। ऑनलाइन गेम खेलने की लत फिर से एक खामी और मामले हैं जहां छोटे बच्चे अपने माता-पिता के CreditDebit Card का उपयोग करते हैं, उनके बिना ऑनलाइन गेम खेलने के लिए सहमति या ज्ञान की सूचना दी गई है। बच्चे इस्तेमाल करते हैं उनके माता-पिता मोबाइल फोन को ऐसे गेम खेलते हैं जिससे OTP मिलता है बैंकर्स द्वारा भेजे गए इन बच्चों द्वारा प्राप्त किए जाते हैं और माता-पिता आते हैं केवल तभी जानें जब उन्हें कार्ड Account Statement मिले और आगे भी कई माता-पिता बयानों का विवरण नहीं देखते हैं और राशि का भुगतान करते हैं ऑनलाइन जिससे उनके बच्चों को उनके निषिद्ध कृत्यों के लिए एक अच्छा कवर मिल रहा है। कुछ खेल कथित तौर पर अनुचित चित्रों को पटर्शित कर रहे थे जो बादलकर सकते थे बच्चों का मासूम दिमाग। माता-पिता को उनके बारे में जानकारी रखने की आवश्यकता है

4 SMS द्वारा धोवाधड़ी ?

इस धोरवाधड़ी से बचने का कोई तकनीकी हल नहीं है। क्योंकि इस तरह से ठगी करने वाले लोग कभी भी अपने असली पहचान पत्र से कोई काम नहीं करते। ऐसे कई Website एवं Software applications हैं जिनकी मदद से इस तरह के फर्जी मैसेज भेजकर ठगी की जा सकती है। Trojan Software की मदद से आपके नंबर का क्लोन बनाकर भी उसका इस्तेमाल फर्जी मैसेज करने के लिए किया जा सकता है। इस तरह के फर्जी मैसेज को ट्रेस और ट्रेक करना अत्यधिक दूभर कार्य है। इस तरह की ठगी से बचने के लिए आपको अत्यधिक सचेत और सतर्क रहने की आवश्यकता होती है। आपकी समझदारी ही इस तरह की ठगी से बचने का एकमात्र ठोस उपाय है।

5 साइबर गिद्ध ?

कोई भी आर्थिक स्कीम जो देखने में बहुत अच्छी प्रतीत होती है। जिसमें बहुत थोड़ा सा पैसा लगाकर बहुत ज्यादा मुनाफे का लालच दिया जाता है। असल में वह पूरी तरह से फर्जी स्कीम होती है। इस तरह के धोखेबाज लोग बड़े लोगों के साथ अपनी तस्वीरें और खुद को अमीर होने का दावा करने की तस्वीरें प्रसारित कर आपको धोरवा दे सकते हैं। एक बार धोरवा देने के बाद किसी और तरीके से झांसे में लेकर दोबारा ठगने से भी इस तरह के गिद्ध नहीं चूकते।

आज के लिए बस इतना ही फिर मिलते है नेक्स्ट आर्टिकल में और इस Cyber Crime अपराध जानकारी को अपने दोस्तों रिस्तेदारो को जरूर शेयर करे और सोशल मीडिया पर भी Facebook WhatsApp आदि पर धन्यवाद जय हिन्द जय भारत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here