Home Business Life insurance Kya Hai – जीवन बीमा योजना क्यों जरूरी है ?

Life insurance Kya Hai – जीवन बीमा योजना क्यों जरूरी है ?

110
0
Life insurance Kya Hai
लाइफ इंश्योरेंस क्या है? जीवन बीमा योजना क्यों जरूरी है?

अक्सर आपने टीवी या समाचार पत्रों में आने वाले विज्ञापनों में लाइफ इंश्योरेंस के बारे में जरूर सुना होगा! Life insurance Kya Hai? इसके क्या क्या फायदे हैं? और यह करवाना क्यों जरूरी है आज हम इस आर्टिकल में Detail से जानेंगे!

लाइफ इंश्योरेंस को हम हिंदी में जीवन बीमा भी कहते हैं! लाइफ की कोई गारंटी है! ऐसा नहीं कहा जा सकता लेकिन लाइफ इंश्योरेंस फिर भी हमें अनेक सुविधाएं देता है इसलिए कई लोग लाइफ इंश्योरेंस से मिलने वाली विभिन्न प्रकार की सुविधाओं को प्राप्त करने के लिए लाइफ इंश्योरेंस लेते हैं। तो आइए सबसे पहले विस्तार से समझते हैं। (Life Insurance Kya Hai)

Life insurance Kya Hai ?

सरल शब्दों में लाइफ इंश्योरेंस को समझें तो यह भविष्य में व्यक्ति को होने वाले जोखिम से सुरक्षा प्रदान करता है यदि कोई बीमा कंपनी किसी व्यक्ति का या उसके परिवार का बीमा करती है तो इसका अर्थ है कि भविष्य में उस व्यक्ति को या उसके परिवार को हुए आर्थिक नुकसान की भरपाई वह बीमा कंपनी करेगी।

अतः जीवन बीमा का एक मुख्य उद्देश्य है! कि यदि बीमा कराने वाले व्यक्ति की असमय ही मौत हो जाती है, तो उसके परिवार को बीमा कंपनी आर्थिक सुरक्षा मुहैया करवाती है।

जिस प्रकार हम अपने विभिन्न उपकरणों जैसे बाइक कार स्मार्टफोन का इंश्योरेंस करवाते हैं! और दुर्घटना की स्थिति में बीमा कंपनी इन्हें पहुंचे नुकसान के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करती है! ठीक उसी प्रकार लाइफ इंश्योरेंस एक व्यक्ति और एक कंपनी के बीच किया जाने वाला एक एग्रीमेंट है।

और इस एग्रीमेंट के लिए बीमा कंपनी बीमा कराने वाले व्यक्ति से प्रीमियम लेती है! इस प्रीमियम में एक फिक्स पेमेंट होती है जो बीमा करने वाले व्यक्ति को बीमा कंपनी को देनी होती है।

आइए समझते हैं कि जीवन में लाइफ इंश्योरेंस की वैल्यू क्या है? अर्थात इसकी उपयोगिता को समझते हैं?

Life insurance क्यों जरूरी है ?

लाइफ इंश्योरेंस अक्सर उन लोगों द्वारा करवाया जाता है जिनकी अपने परिवार में विशेष जिम्मेदारी होती है! एक व्यक्ति की अपने परिवार में सामान्यतः मुख्य जिम्मेदारियां होती हैं!

बच्चों को अच्छी शिक्षा देने हेतु किसी बड़े विद्यालय में भेजने के लिए पैसे जुटाना, पुत्री के विवाह के लिए पैसे बचाना या किसी व्यक्ति के पास होम लोन है तो उसे चुकाने उसकी मुख्य जिम्मेदारी है।

लेकिन जरा सोचिए लाइफ की तो कोई गारंटी नहीं है तो ऐसे में इन जिम्मेदारियों को पूर्ण करने से पूर्व ही यदि व्यक्ति के साथ कोई दुर्घटना हो जाती है जिसमें उसकी मृत्यु हो जाती है तो उन लक्ष्यों की पूर्ति कहां से होगी और उनके परिवार का क्या होगा।

कई लोग जिनके घर में कमाने वाला सिर्फ एक होता है और उनके साथ यह हादसा हो जाता है! तो उन्हें घर चलाने के लिए अपना घर ही बेचना पड़ता है और जैसी कई समस्याएं आ जाती हैं।

तो इस स्थिति में काम आता है लाइफ इंश्योरेंस जो अनहोनी की स्थिति में व्यक्ति के परिवार को वित्तीय सहायता प्रदान करता है! और व्यक्ति के परिवार को एक सुरक्षा कवच देने का कार्य करता है ताकि ऐसी विषम परिस्थितियों में उसका परिवार आत्म सम्मान के साथ जीव कर जीवन यापन कर सके।

अब आप यह समझ चुके हैं कि आखिर लाइफ इंश्योरेंस की महत्वता क्या है? अब हम समझ लेते हैं।

लाइफ इंश्योरेंस की व्यक्ति को जरूरत कब पड़ती है ?

लाइफ इंश्योरेंस लेने की कोई निश्चित उम्र नहीं होती आप किसी भी उम्र में लाइफ इंश्योरेंस से ले सकते हैं। विशेषकर लाइफ इंश्योरेंस लेना तब फायदेमंद होता है जब आप के ऊपर कोई महत्वपूर्ण जिम्मेदारियां ना हो क्योंकि जैसे-जैसे उम्र बढ़ती हैं तो लाइफ इंश्योरेंस के लिए भुगतान की राशि भी बढ़ जाती है।

और कई लोगों में उम्र बढ़ने के साथ स्वास्थ्य संबंधित समस्याएं होती हैं! और उनके लिए फिर लाइफ इंश्योरेंस बीमा का चुनाव करना कठिन हो जाता है। तो आइए जानते हैं कितने प्रकार की यह लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी होती है।

लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी सात प्रकार की होती है ?

1. टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी

इस पॉलिसी को एक फिक्स टाइम पीरियड के लिए लिया जा सकता है! मान लीजिए 10 साल 20 साल| तो इसमें टाइम पीरियड के अनुसार कवरेज मिलता है! बाकी अन्य इंश्योरेंस पॉलिसी की तुलना में टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी को लेना सस्ता होता है,क्योंकि इसमें मेच्योरिटी लाभ प्राप्त नहीं होता तथा यह सेविंग कंपोनेंट के बिना ही लाइफ कवर की सुविधा देती है।

इस बीमा पॉलिसी को लेने वाले व्यक्ति की यदि पॉलिसी टर्म के दौरान मृत्यु हो जाती है तो बेनिफिशियरी को एक निश्चित रकम दी जाती है।

2. एंडोमेंट पॉलिसी

इस पॉलिसी को लेने वाले व्यक्ति को फिक्स टाइम पीरियड के लिए जोखिम कवर किया जाता है! इस बीमा पॉलिसी में निवेश तथा बीमा दोनों की सुविधा दी जाती है! और जैसे ही टाइम पीरियड समाप्त होता है तो बोनस के साथ एक निश्चित रकम बीमा करने वाले व्यक्ति को दी जाती है।

3. मनी बैंक इंश्योरेंस पॉलिसी

इसे आप एंडोमेंट पॉलिसी की तरह ही देख सकते हैं! क्योंकि इस पॉलिसी के अंतर्गत भी निवेश तथा बीमा दोनों किया जा सकता है बस फर्क इतना है कि इस लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी के अंतर्गत बोनस के साथ साथ sum assured को पॉलिसी term के दौरान किस्तों में ही वापस कर दिया जाता है।

लेकिन यदि पॉलिसी के दौरान बीमा कराने वाले व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है तो पूरा sum assured बेनिफिशियरी व्यक्ति को दे दिया जाता है! लेकिन सामान्यतः इस पॉलिसी का चुनाव कम लोग ही करते हैं क्योंकि इसमें अधिक प्रीमियम देना पड़ता है।

4. जीवन लाइफ इंश्योरेंस

अब यह बीमा पॉलिसी आपके पूरी जिंदगी के लाइफ इंश्योरेंस को कवर करती है इसे हम इंग्लिश में whole life insurance भी कहते हैं। इसमें जो व्यक्ति पॉलिसी लेता है उसकी मृत्यु होने की स्थिति में नॉमिनी को बीमा का क्लेम मुहैया कराया जाता है।

इस बीमा पॉलिसी को लेने का एक बड़ा फायदा यह है कि व्यक्ति की उम्र चाहे 90 वर्ष ही क्यों ना हो तब भी जो नॉमिनी है वह पॉलिसी धारक की मृत्यु होने पर क्लेम कर सकता है।

परंतु प्रीमियम अधिक होने की वजह से जीवन लाइफ इंश्योरेंस को अधिक लोग नहीं ले पाते हैं! हालांकि इस पॉलिसी के अंतर्गत बीमा कराने वाली व्यक्ति के पास एक ऑप्शन रहता है कि वह sum assured को आंशिक रूप से वापसी ले सकते हैं।

5. Retirement plan

इसे हम रिटायरमेंट सॉल्यूशन प्लान के नाम से भी जानते हैं! इस प्लान में व्यक्ति को लाइफ इंश्योरेंस कवर प्राप्त नहीं होता!

इसमें आप अपने रिस्क का आकलन कर रिटायरमेंट फंड बना पाते हैं! रिटायरमेंट प्लान के अंतर्गत एक निश्चित समयावधि के बाद बीमा कराने वाले व्यक्ति को या मृत्यु के बाद में बेनिफिशियरी को पेंशन के रूप में फिक्स वेतन दिया जाता है! यह वेतन किस समयावधि तक दिया जाता है? तो यह प्रतिमाह या फिर सालाना हो सकता है।

6. child insurance Policy

इस पॉलिसी के अंतर्गत उन plans को रखा गया है जो बच्चों के स्वास्थ्य, शिक्षा एवं उनकी जरूरतों के आधार पर खर्चे होते हैं! चाइल्ड प्लान लेने वाले व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है तो बच्चों को एक निश्चित अवधि तक पैसा बीमा इंश्योरेंस कंपनी मुहैया करवाती है। इसमें भविष्य में प्रीमियम देने की जरूरत नहीं पड़ती साथ ही इंश्योरेंस कंपनी अपनी तरफ से पॉलिसी करवाने वाली व्यक्ति के प्लान में निवेश को जारी रखती है।

7. Life इंश्योरेंस लेने के फायदे

लाइफ इंश्योरेंस लेना भविष्य आपके परिवार को वित्तीय सुरक्षा प्रदान करता है! अनहोनी की स्थिति में परिवार के आर्थिक बोझ को कम करने में यह सहायक होता है।

यह परिवार को स्वास्थ्य एवं चिकित्सा प्राप्त करने में सहयोग करता है! कहीं ऐसे प्लांस है जिनमें यह सुविधा दी जाती है।

लाइफ इंश्योरेंस से long term में दीर्घकालीन समय के लिए बचत की जा सकती है! यह मनुष्य को मानसिक शांति देने में भी मदद करते हैं।

भविष्य में बच्चों की शिक्षा हेतु लाइफ इंश्योरेंस मददगार साबित होते हैं।

तो दोस्तों अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर कौन सी कंपनी का लाइफ इंश्योरेंस लेना चाहिए! तो बता दें मार्केट में इस समय कई सारी पॉपुलर लाइफ इंश्योरेंस कंपनियां हैं! आप अपनी सुविधा के मुताबिक किसी भी कंपनी का बेस्ट लाइफ इंश्योरेंस plan ले सकते हैं। कुछ बेस्ट लाइफ इंश्योरेंस कंपनियों के नाम नीचे दिए गए हैं!

यहां भी पढ़े:- Bike Insurance Kaise Karaye ?

Best life insurance company in 2020

  • Canara Hsbc Obc Life Insurance
  • Bharti Axa Life Insurance
  • Bajaj Allianz Life Insurance
  • Aviva Life Insurance
  • SBI Life Insurance
  • Indiafirst Life Insurance Company Ltd – India First
  • Pnb Metlife Insurance
  • Reliance Life Insurance
  • Kotak Life Insurance
  • Life Insurance Corporation Of India(LIC)

तो साथियों आज के इस लेख में आपने जाना Life insurance Kya Hai? यह व्यक्ति के लिए क्यों जरूरी है! उम्मीद है मुझे इस लेख में दी गई जानकारी आपके लिए helpfull साबित होगी! कोई और सवाल हो तो कमेंट सेक्शन में जरूर बताएं साथ ही इस जानकारी को अपने दोस्त के साथ जरूर शेयर करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here